surya namaskar , सूर्य नमस्कार के फायदे

surya namaskar



surya namaskar , सूर्य नमस्कार के फायदे

सूर्य नमस्कार के बहुत से फायदे हैं अगर हम रोज सुबह उठकर सूर्य नमस्कार करें तो हमें किसी भी प्रकार की बीमारी नहीं होगी और हमारा शरीर एकदम स्वस्थ रहेगा। ज्यादातर हमें बीमारियां पेट से होती हैं। इसलिए हमें सूर्य नमस्कार सुबह उठकर जरूर करना चाहिए और सूर्य नमस्कार के 12 चरण होते हैं। सूर्य नमस्कार के 12 पाठ का अलग-अलग फायदे और अलग-अलग तरह से शरीर व्यायाम करना होता है।


सूर्य नमस्कार सभी योगासनों में सर्वश्रेष्ठ योगासन माने जाते हैं। सूर्य नमस्कार स्त्री, युवा, बाल सभी को सूर्य नमस्कार करने चाहिए। सूर्य नमस्कार के 12 चरण होते हैं। 


सूर्य आसन के 12 चरण :-


प्रणाम आसन

हस्तउत्तानासन

हस्तपाद आसन 

अश्व संचालन आसन

दंडासन

अष्टांग नमस्कार आसन

भुजंग आसन

पर्वत आसन

अश्व संचालन आसन

हस्त पाद आसन

हस्तउत्थान आसन

ताड़ासन

सूर्य नमस्कार के फायदे :-


सूर्य नमस्कार के विभिन्न फायदे हैं सूर्य नमस्कार करने से आपको माइग्रेन जैसी बीमारियां भी नहीं होंगी। सूर्य नमस्कार करने से आपको किसी भी प्रकार की बीमारी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

 प्रणाम आसन

प्रणाम आसन को सबसे पहले एक नीचे आसन बिछा लीजिए और फिर उसके ऊपर खड़े होकर दोनों पैरों को जोड़कर सीधा खड़े रहिए और अपने दोनों हाथ को नमस्कार अवस्था में जोड़ कर रखिए। यह प्रणाम आसन कहलाता है।

ऐसे ही विभिन्न प्रकार के आसन है कि आप को विभिन्न प्रकार के लाभ प्रदान करेंगे यह 12 आसन करके आप अपने शरीर को स्वस्थ और सुखमय बना सकते हैं।


सूर्य नमस्कार एक प्रकार का भगवान की आराधना मानी जाती है, सूर्य नमस्कार करने वाले व्यक्ति के अंदर एक नई प्रकार की ऊर्जा भी आ जाती है जिसे हम इंग्लिश में एनर्जी कहते हैं।सूर्य नमस्कार हमें रोज सुबह उठकर जरूर करना चाहिए इससे हमारे शरीर में जो भी रोग होता है उससे हमें धीरे-धीरे छुटकारा मिलने लगता है। 


सूर्य नमस्कार हर बीमारियों का एक तोड़ है, सूर्य नमस्कार से हमारे हाथ पर कंधे कमर सब मजबूत हो जाते हैं। और हमें काम करने में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होती है।


मेरा मानना तो यह भी है कि अगर कोई व्यक्ति या फिर महिला को अपना वेट घटाना है तो वह सूर्य नमस्कार जरूर करें इससे उनके पेट की चर्बी दूर होगी और उनके हाथ, पैर कंधे कमर आदि सब मजबूत होंगे।

Leave a Comment